Regional

गर्भावस्था में चुकंदर खाना: सुरक्षा, लाभ और जोखिम

|

5 Mins Read

SuperBottoms Admin

जैसे ही आपको पता चलता है कि आप गर्भवती हैं, आप सचेत जीवनशैली में बदलाव करना शुरू कर देती हैं। आपके खाने की आदतों में मूलभूत परिवर्तनों में से एक स्वस्थ आहार को शामिल करना है। आप जो खाना खाती हैं वह आपके बच्चे का पोषण करता है और आपको गर्भावस्था के प्रत्येक तिमाही में स्वस्थ रूप से पालने की ऊर्जा देता है। इसलिए, जबकि आप पहले से ही संतुलित आहार खाना शुरू कर चुके होंगे, कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ होंगे जिन्हें आप अपने आहार में शामिल करने के बारे में अनिश्चित हैं। और अधिक विशिष्ट होने के लिए, हम गर्भावस्था के दौरान चुकंदर खाने के बारे में बात करेंगे। तो, अगर आप सोच रहे हैं कि चुकंदर को अपने दैनिक आहार में शामिल करना चाहिए या नहीं, तो आगे पढ़ते रहें!

Newborn Essestials by Alia

क्या गर्भावस्था में चुकंदर खाना सुरक्षित है?

चुकंदर, जैसा कि नाम से पता चलता है, एक जड़ वाली सब्जी है जो विभिन्न रंगों में आती है। हालांकि, चुकंदर का सबसे पहचानने योग्य रंग मैजेंटा है। इसमें आम तौर पर एक सांसारिक और मीठा पक्ष होता है जो सलाद से लेकर स्मूदी तक कुछ भी जोड़ता है। चुकंदर में अद्वितीय पोषण मूल्य होता है, जो इसे आपकी गर्भावस्था में शामिल करने के लिए एक स्वस्थ भोजन बनाता है (1)। इसके अलावा, गर्भावस्था में चुकंदर का सेवन आपकी मीठा खाने की इच्छा को पूरा कर सकता है, उच्च कैलोरी वाले खाद्य पदार्थों के सेवन को रोक सकता है। चुकंदर आहार फाइबर और कई आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जो उन्हें गर्भवती महिलाओं के लिए एक सुरक्षित और आदर्श विकल्प बनाते हैं।

गर्भावस्था में आप कितने चुकंदर का सेवन कर सकती हैं?

गर्भावस्था में चुकंदर आदर्श है, लेकिन केवल तभी जब इसे कम मात्रा में सेवन किया जाए। इसलिए गर्भवती महिलाएं एक दिन में अधिकतम दो चुकंदर का सेवन कर सकती हैं। यह सब्जी रक्त को शुद्ध करने, विषहरण और शरीर को पुनर्जीवित करने के लिए जानी जाती है। इसके अलावा, इसका सेवन कच्चा, पकाकर या जूस के रूप में भी किया जा सकता है।

गर्भावस्था में चुकंदर के स्वास्थ्य लाभ

अपने गर्भावस्था आहार में चुकंदर को शामिल करने के कुछ लाभ यहां दिए गए हैं -

1. जन्मजात विकलांगता के जोखिम को कम करता है - चुकंदर में उच्च फोलिक एसिड सामग्री होती है, जो भ्रूण के तंत्रिका तंत्र के विकास में मदद करती है। और यह स्पाइना बिफिडा जैसी जन्मजात अक्षमताओं के जोखिम को भी कम करता है।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है - चुकंदर में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो आपकी प्रतिरक्षा में सुधार करने और गर्भावस्था के दौरान संक्रमण से बचाने में मदद करते हैं। इसके अलावा, उच्च प्रतिरक्षा स्तर वाली गर्भवती महिलाएं बीमारियों और बीमारियों के जोखिम को कम करती हैं। इसलिए गर्भावस्था के आहार में चुकंदर शामिल करना हमेशा एक आदर्श विकल्प होता है।

3. एनीमिया से बचाता है - गर्भावस्था के दौरान आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया एक आम चिंता है, जिससे थकान और कमजोरी जैसे लक्षण हो सकते हैं। इसलिए गर्भवती महिलाओं को अपने आहार में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को जरूर शामिल करना चाहिए। चुकंदर आयरन का एक बड़ा स्रोत है, और शाकाहारियों और शाकाहारी लोगों के लिए एक आदर्श विकल्प है, जो अपने आयरन सेवन को बढ़ावा देना चाहते हैं।

4. भ्रूण वृद्धि प्रतिबंध रोकता है - कुछ शोध अध्ययनों से पता चलता है कि चुकंदर में भ्रूण के विकास प्रतिबंध को रोकने की क्षमता होती है। जबकि प्लेसेंटा के साथ समस्या अक्सर विकास प्रतिबंध का कारण बनती है। लेकिन गर्भावस्था के दौरान चुकंदर का सेवन करने से इस सब्जी में मौजूद नाइट्रेट्स से प्लेसेंटा में रक्त प्रवाह में सुधार होता है।

5. ब्लड शुगर को बनाए रखने में मदद करता है - चुकंदर एक कम ग्लाइसेमिक भोजन है जो ग्लूकोज में परिवर्तित होने और रक्त को अवशोषित करने में अधिक समय लेता है। इसलिए यह रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद कर सकता है।

लिमिटेड ऑफर को ऐसे ही ना गवाएं - आज ही खरीदें

अभी नहीं तो कभी नहीं - आज के किफ़ायती ऑफर सुपरबॉटम्स पर लाइव है। हमारे ऑनलाइन स्टोर पर सबसे बेहतर छूट और डिस्कोउन्ट्स का लाभ उठाएं! सबसे सबसे प्रसिद्ध औरअधिक बिकने वाले UNO डायपर, एक्सेसरीज़, अन्य लोकप्रिय बेबी / मॉम उत्पादों का स्टॉक अब बड़े डिस्काउंट पर उपलब्ध है।

जल्दी करें, यह ऑफर स्टॉक खत्म होने तक ही लाइव हैं!

गर्भावस्था में चुकंदर खाने के संभावित जोखिम

अब जब आप चुकंदर के फायदों के बारे में जान गए हैं तो आइए इस सब्जी के सेवन से होने वाले कुछ दुष्प्रभावों पर एक नजर डालते हैं -

1. चुकंदर में बीटाइन होता है, जिसके अधिक मात्रा में सेवन से उल्टी, मतली, दस्त, और अन्य जठरांत्र संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
2. चुकंदर में नाइट्रेट की मात्रा गर्भावस्था के दौरान थकान और कमजोरी का कारण बन सकती है।
3. अधिक मात्रा में चुकंदर का सेवन करने से चुकंदर नामक स्थिति हो सकती है, जो आपके मूत्र और मल को लाल रंग में बदल सकती है।
4. अधिक मात्रा में चुकंदर का सेवन करने पर इसमें ऑक्सालेट की मात्रा गुर्दे की पथरी का कारण बन सकती है।

महत्वपूर्ण सुचना - गर्भावस्था के दौरान, एक संभावित मां को कई निर्णय लेने का सामना करना पड़ता है। डायपर आपके बच्चे के लिए इन निर्णयों में से एक है। कपड़े के डायपर (cloth diapers) रंगों, पैटर्न और डिज़ाइनों की एक विस्तृत श्रृंखला में आते हैं, जिससे माता-पिता अपने बच्चे के डायपर लुक को निजीकृत कर सकते हैं।

गर्भावस्था के आहार में चुकंदर कैसे शामिल करें?

एक बार जब आपके क्लासिक गर्भावस्था के लक्षण (pregnancy symptoms), जैसे मॉर्निंग सिकनेस और मतली कम हो जाती है, तो आप उल्टी की भावना के बिना खाने में सक्षम हो जाएंगी। यह समय है जब आप अपने आहार में चुकंदर और अन्य सब्जियों को शामिल कर सकते हैं। यहाँ कुछ तरीके दिए गए हैं जिनसे आप चुकंदर को अपने गर्भावस्था आहार में शामिल कर सकती हैं -

चुकंदर का रस -

यहां बताया गया है कि आप स्वादिष्ट चुकंदर का रस कैसे तैयार कर सकते हैं

सामग्री -

1. चुकंदर - 1-2 छोटे टुकड़ों में काट लें
2. कद्दूकस किया हुआ अदरक - एक इंच
3. नींबू का रस - 1 बड़ा चम्मच
4. पानी - ज़रुरत के अनुसार

बनाने की विधि

1. एक ब्लेंडर में चुकंदर, कद्दूकस की हुई अदरक और थोड़े से पानी का एक चिकना पेस्ट बना लें।
2. पेस्ट को एक गिलास में छान लें।
3. इसमें 1 टेबल-स्पून नींबू का रस डालें और इसे चलाएं
4. सर्व करे

चुकंदर का सलाद

यहां बताया गया है कि आप पौष्टिक सलाद कैसे तैयार कर सकते हैं -

सामग्री

1. मध्यम आकार के चुकंदर - 1-2 (छीलकर, उबालकर छोटे क्यूब्स में कटे हुए)
2. पनीर क्यूब्स- 1 कप
3. करी पत्ते – 3-4
4. सरसों के दाने - 1/2 छोटा चम्मच
5. तेल - 1 बड़ा चम्मच
6. नमक स्वादअनुसार
7. काली मिर्च स्वाद के लिए

बनाने की विधि

1. एक बड़े कटोरे में उबले हुए चुकंदर के टुकड़े और पनीर के टुकड़े लें।
2. एक चुटकी नमक और काली मिर्च डालें और अच्छी तरह मिलाएँ।
3. एक पैन गरम करें और उसमें थोड़ा सा तेल डालें।
4. तेल के गर्म होते ही इसमें राई और करी पत्ता डालें.
5. उन्हें कुछ सेकंड के लिए फूटने दें, और फिर इस तड़के को सलाद में डाल दें।
6. कटोरे को कुछ मिनट के लिए ढक्कन से ढक दें
7. अच्छी तरह मिलाएं और परोसें

एक्स्ट्राहाइड्रेटिंग वाइप्स (Xtrahydrating Wipes) का उपयोग शीघ्र और आसान सफाई के लिए सुविधाजनक हैं, खासकर चुकंदर जैसे रसदार फल होने पर। वे पोर्टेबल हैं और स्टोरेज के लिए वाटरप्रूफ ट्रैवल बैग (Waterproof Travel Bag) में ले जाया जा सकता है, जिससे जरूरत पड़ने पर उन्हें आसानी से उपलब्ध हो सके है।

जारी लेख से सीख

हमें उम्मीद है कि हमारा लेख गर्भावस्था के आहार में चुकंदर को शामिल करने के बारे में आपकी शंकाओं को दूर करने में मददगार रहा होगा। मध्यम मात्रा में सेवन करने पर चुकंदर के कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। तो आगे बढ़ें और इन स्वादिष्ट व्यंजनों को तैयार करें जिन्हें हमने ऊपर साझा किया है!

सुपरबॉटम्स से संदेश

नमस्ते, दुनिया भर से आप सभी नए माता-पिता! सुपरबॉटम्स में हम यह सुनिश्चित करते हैं कि आपके पास अपने बच्चों के लिए सर्वोत्तम और सुरक्षित उत्पाद हों, चाहे आप भारत या दुनिया के किसी भी कोने में हों। सुपरबॉटम्स आपके बच्चे की नाजुक त्वचा, सभी मौसमों और कपड़े के डायपर (UNO cloth diapers) और पॉटी प्रशिक्षण (potty training) के सभी चरणों में बच्चों के लिए उपयुक्त है। यदि आप भारत, अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, फिलिपींस, यूनाइटेड किंगडम, सिंगापुर, मलेशिया, कतर में रहते हैं तो सुपरबॉटम्स आपके और आपके बच्चे के लिए बिल्कुल जरूरी है।

Banner Image

Wow

Get the 10% Discount on Cart

(Min Order Value 1500/-)

GRAB10

Code copied to clipboard!
Copy failed. Please try again.

Related Blogs

સ્તનપાન

Regional

February 13 , 2024

સ્તનપાન કરાવતી વખતે પીરિયડ્સ અંગે માર્ગદર્શન

बच्चों के लिए ओट्स

Regional

February 12 , 2024

बच्चों के लिए ओट्स: उपयोग, लाभ, रेसिपी

कपड़े के डायपर

Regional

February 09 , 2024

कपड़े के डायपर कितने घंटे चलते हैं?

5 મહિના બેબી ફૂડ

Regional

February 09 , 2024

5 મહિનાના બાળક માટે ડાયેટ ચાર્ટ અને વાનગીઓ